LUT GAYE LYRICS – JUBIN NAUTIYAL

जुबिन नौटियाल द्वारा किया गया लुट गे तनिष्क बागची द्वारा दिए गए संगीत के साथ नवीनतम हिंदी गीत है। लुट गे के गीत मनोज मुंतशिर द्वारा लिखे गए हैं जबकि इसका संगीत वीडियो निर्देशक जोड़ी राधिका राव और विनय सप्रू द्वारा निर्देशित है।

जुबिन नौटियाल द्वारा किया गया लुट गे

लुट गेय बोल

मैना जाब दे खा था
रहत भें वो यद है मुजको
तारे गिन्ते जिनते सो गया
दिल मेरा ढाका था कस के
कु छ कह ता तो हं के
मुख्य usi पाल तेरा हो गया

अस्सलामानो बराबर जो खुदा है
हमसे-सी मेरि ये दुई है

चंद याह हर रोज मुख्य देखुन
तेरे साथ में हैं

अंख उठी मोहोबत ने अंगद ली
दिल का सौदा है चांदनी रात में
हो तेरी नाज़रोँ न कुच ऐसा जाडु कइया
लुटे गे हम से पेहली मुलकात मे
हो अंख उठी

पनव रखना न ज़मीन बराबर
जान रुक जा तू घडी भर
ठाड़े तारे बिचा दून को
मुख्य तेरे वास्ते

अजमा ले मुजको यारा
तू ज़रा सा कर ईशारा
दिल जला के जगमगा दून
मुख्य तेरे वास्ते

मेरे जेसे इश्क में पागल है
फ़िर मिले या ना मिले कल
सोहना क्या है ये दिल मेरा है

अनख उठी मोहोबत ने अंगद ली
दिल का सौदा है चांदनी रात में
हो तेरी नजारोँ न कुच्छ आइसा जदो किआ
पल गे हम से पेहली मुलकात मे
हो अंख उठी

Haan kisse mohobbat ke
हें जो किताबन मे
सब चहत हं मुख्य
संग तेरे दोहराना

किटना जरुरी है अब मेरि खातिर तू
मुशकिल है मुशकिल है
लफ्ज़ों में मुझे पाना

आब ते तो आलम है तू जान मांगे को
मुख्य शुक से दे दून सौगत में

अंख उठी मोहोबत ने अंगद ली
दिल का सौदा है चांदनी रात में
हो तेरी नजारोँ न कुच्छ आइसा जदो किआ
लुटे गे हम से पेहली मुलकात मे
हो अंख उठी

लुटे गमे हम ते तेरी मुहब्बत में

विज्ञापन

लुत् गे गीत विस्तार से

गीत के बोल: मनोज मुंतशिर
गायक: जुबिन नौटियाल
संगीतकार: तनिष्क बागची

Leave a Comment