EL JATT LYRICS – VARINDER BRAR

वरिंदर बराड़ द्वारा एल जट्ट लिरिक्स और वीर संधू नवीनतम पंजाबी गीत है जिसमें जींद द्वारा संगीत दिया गया है। एल जट्ट गीत के बोल वरिंदर बराड़ और प्रभा संघ द्वारा लिखे गए हैं जबकि वीडियो तेजि संधू फिल्म्स द्वारा निर्देशित है।

वरिंदर बराड़ द्वारा एल जट्ट लिरिक्स

एल जट्ट लिरिक्स

हो बगलक वेली एतह बन्ने जाममे आ
पार मालवे दे जट माने बराबर माने आ
वैरी दा गरुड़ अस्ति साने लाट भाने आ
ते मौत नू मितरां न राखिल मननिआ

किते वे खिलफ सददे हुंदे सजीशन
दिग पाइयां छट्टन दे ताह दबबे हो
जिन्ना रौन्दन ते सी मेरा नाम लिखाया
न डनलियं च अयं न जवानं लब्बोयो

अनाखन पुगुनियां न जट जान दे
लेनि किविन जान जिविन जेहर नू पात

चांग कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा किन्ना मुख्य तेरे शीर नू पात
चांग कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा किन्ना मुख्य तेरे शीर नू पात

पोंछदा बरबर कोइ कीथे यार दे
कुण्डी लाद न फिरदे आ छिट्टे मार दे
यारन लेइ फट्ट केहिंदे आ सहरी दे
हो दिलन विच कौं साले अधे यारी दे

बेद सड्डा हाल तैं सानु नी आया
किवीं दिलन दे तू रज़ दास ग़ैर नु पट

हो चंगा कीना जट कल्ली तू जान दी
महदा किन्ना मुख्य तेरे शीर नू पात
चांग कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा किन्ना मुख्य तेरे शीर नू पात

तू लोंगोवाल दीया धेनु वांगु जट्ट लुटेया
तेरे नैना दे निसाने सथां रो नी नी गे
5-7 यमदूत पक्का घोड़ी सम्मान जीई
सदे तहां नु मारे वयं अग्नि फोकके नी गये

हो लोकी केहंड पित्त कीथों ऐ लेया के लिहदे
एह तैं संधू ते संगे दी बेस लेहर नू पात

हो चंगा कीना जट कल्ली तू जान दी
महदा किन्ना मुख्य तेरे शीर नू पात
चांग कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा किन्ना मुख्य तेरे शीर नू पात

हो जान जिहु तू कीन्ही ऐ
नी लोकी कीन्हा जान कद ’
इक्क तू जाण नी दूजा रब जाण नी
मैनु गुसा कहटन चढ्डा

हो दुखड़ी गो sadी वज्जड़ी तैं कथे लल रंग नी
सड्डा वाजजे जे लफेडा करे नीला नखरो
यार खाड़े जट्ट नाल जट्ट खाड़ा तेरे नाल
चल बेखौफ़ ज़िन्दगाई नू जी लान नखरो

पट नी दुखड़ी पुलिस नाल कदों के साकेरी बन जाय
नी कदं दुखदे आले मुददा कश्मीरी बन जाय
मेरे डब नाल लागे दी जादों घुमड़ी गारी
मुह्रे घुमडी आ दुनिया भमेरी बन के

हो दुख दीन शरु हुंद करवै नाल नी
सत्तोँ हुँड नै कोइ कर्म नर्मै नाल नी
इक तू ही कल्ली जट्ट जिष्णु रांझा लगदा
नी बाकी करदे तुलना रघु भाई नाल नी

मेरा चढला दिमाग थोडा तत्ता नखरो
तैं वि दिल विच सांभ तेनु राखन नखरो
ओतं गिंटि नीं वैरियं दी किं बैन गये
नी जान तू ही सी ते बेसु रखन नखरो

वद वद किने एहदे विच सटे आ नि
जिविन दुखदे पिंड वली बस नेहर नू पात

हो चंगा कीना जट कल्ली तू जान दी
महदा किन्ना मुख्य तेरे शीर नू पात
चांग कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा किन्ना मुख्य तेरे शीर नू पात

भरक दे आ साले कुज करदे नै
गजजडे जो सुनैया मुख्य वरदे नै
सदे खोदे चढे जेहदे वदे बदमाश
मुन बदमाशी वल करदे नाई

हो किहदे किहदे दुहनी तक जाके लगनी
मेरि कलम चून निकली होइ रेखा नू पाटा

हो चंगा कीना जट कल्ली तू जान दी
महदा किन्ना मुख्य तेरे शीर नू पात
चांग कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा किन मुख्य तेरी

सद्दियन गैलन सूरज के
तेनु बाकि हालके लगन लग पाइन
जेना नु अए कलमन केहंदे आ
हो तनु द tके लगन लग पाइन

लोकी केँ गन्नेन नू एहो जा के करदा
वरिंदर व्रार दी गैल सूरज के
साला बंदा मरण नू जी करदा

विज्ञापन

एल जट्ट सॉन्ग डिटेल

गीत के बोल: वरिंदर बराड़, प्रभा संघ
गायक: वरिंदर बराड़, वीर संधू
संगीतकार: जींद

Leave a Comment