EL JATT LYRICS – VARINDER BRAR

वरिंदर बराड़ द्वारा एल जट्ट लिरिक्स और वीर संधू जींद द्वारा दिए गए संगीत के साथ बिल्कुल नया पंजाबी गीत है। एल जट्ट गीत के बोल वरिंदर बराड़ और प्रभा संघ द्वारा लिखे गए हैं जबकि इसका संगीत वीडियो तेजि संधू फिल्म्स द्वारा निर्देशित है।

वरिंदर बराड़ द्वारा एल जट्ट लिरिक्स

एल जट्ट लिरिक्स

हो बगलक वेली एतह बन जाममे आ
पार मालवे दे जट मन्ने पार मन्ने आ
वैरी दा गुरूर अस्सी साने लाट भाने आ
ते मूत नु मितरां न राखेल मनिना

किते वे खिलाफ सदे हुंदे सजीशन
दिग पाइयां छट्टन दे ता डब्बे हो
जिन्ना रौन्दन ते सी मेरा नाम लिखाया
ना दुनलियं च अयं न जवानं लेबेयो

अंकन पुगुनियां न जट जान दे
लेनि किव जान जिव जेहर नु पट

चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा कीन्हा मुख्य तेरे शेहर नु पट
चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा कीन्हा मुख्य तेरे शेहर नु पट

पोंछदा बरबर कोइ कीथे यार दे
कुंडी लाद नी फिरड़े आ चिट्टे मार दे
यारन लइइ पिते केहंदे आ सहरी दे
हो दिलन विच कौन साले अधे यारी डे

बेद दुख होत तन सानु न आया
किवे दिलन दे तू रज़ दास गैर नू पाटा

चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा कीन्हा मुख्य तेरे शेहर नु पट
चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा कीन्हा मुख्य तेरे शेहर नु पट

तू लोंगोवाल दिव्य धेनन वांगु जट्ट लुटिया
तेरे नैना दे निसाने सथें रोके नी गे
5-7 यमदूत पक्का घोड़ी माननीय
सदे तहां नु मारे वि आग फोकके नी गये

हो लोकी केहंदे पित्त कीथे अइ लेया के लिहदे
एह तँ ​​संधु ते संगे दी बेस लेहर नु पाटा

चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा कीन्हा मुख्य तेरे शेहर नु पट
चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा कीन्हा मुख्य तेरे शेहर नु पट

हो जान जिहु तू कीन्ही ऐ
नी लखी कीन्दे जान काददा
इक्क तू जान नइ दूजा रब जान नइ
मैनु गुसा कहटन चढ्डा

हो दुखड़ी गो sadी वाजडी तां कथे लल रंग नी
सददा वाजे जे लफेडा करे नीला नखरो
यार खाड़े जट्ट नाल जट्ट खाड़ा तेरे नाल
चल बेखौफ़ ज़िन्दगाई नू जी लान नखरो

पात नी दुखड़ी पुलिस नाल कदों के सकिरी बन जे
नी कदं दुखदे आले मुददा कश्मीरी बन जे
मेरे डब नाल लागे दी जादों घुमड़ी गारी
मुहरे घुमडी आ दुनिया भमेरी बन के

हो दुख दीन शूरु हुन्दा करावै नाल नी
सत्तोँ हुँड नै कोइ काम नर्मै नाल
इक तू ही कल्ली जट्ट जिष्णु रांझा लगदा
नी बाकी करदे तुलना रघु भाई नाल नी

मेरा चल्दा डाइमग थोडा तत्ता नखरो
तैं वि दिल विच संभ तनु रक्खा नखरो
ओह तान गंट्टी नी वैरिअन दी किन के गने
नी जान तू है ते ते तनु रखा नखरो

वद वद कदने एहदे विच बैठते आ नी
जिव सदे पिन्ड लहरि आधार नेहर नू पात

चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा कीन्हा मुख्य तेरे शेहर नु पट
चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा कीन्हा मुख्य तेरे शेहर नु पट

भरक दे आ साले कुज करदे नै
गजदे जो सुनैया मुख वरदे नै
सदे खोदे चढे जेहदे वदे बदमाश
मुन बदमाशी वल करदे नाई

हो किहदे किहदे दुनी तक जाके लगनी
मेरि कलम चून निकली होइ रेखा नू पाटा

चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा कीन्हा मुख्य तेरे शेहर नु पट
चंगा कीना जट्ट कल्ली तू जान दी
महदा किन मुख्य तेरी

सद्दियन गैलन सूरज के
तैंउ बाकि हालके लगन पाइन
जिन्ना नु ऐ कलमन केहंदे आ
हो तनु द lके लगन लग पाइन

लोकी केँ गन्नेन न इहो जा के करदा
वरिंदर बरा दी गैल सूरज के
साला बंदा मारन नू जी करदा

विज्ञापन

एल जट्ट सॉन्ग डिटेल

गीत के बोल: वरिंदर बराड़, प्रभा संघ
गायक: वरिंदर बराड़, वीर संधू
संगीतकार: जींद

Leave a Comment